पाक का यूएन में राग कश्मीरी

                                                         एक बार फिर से पाक के पीएम ने संयुक्त राष्ट्र के वार्षिक अधिवेशन में जिस तरह से कश्मीर का मुद्दा उठाया है और उसके बाद एक बात तो स्पष्ट ही हो गयी है कि अब भी पाक को अपने अस्तित्व को बचाये रखने के लिए कश्मीर की ज़रुरत पड़ती है और भविष्य में भी पड़ती ही रहने वाली है. नवाज़ शरीफ ने जिस तरह से कश्मीर में संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव के तहत एक बार फिर से जनमत संग्रह की बात की है उससे यही लगता है कि वे…

Read More

पीओके,जेहादी और चीन

                                                               चीन के सीमा सुरक्षा से जुड़े हुए महत्वपूर्ण सैन्य अधिकारी के इस बात के खुलासे से कि पाक अधिकृत कश्मीर से उसके मुस्लिम बहुल शिनजियांग प्रान्त में आतंकी गतिविधियों के सञ्चालन को समर्थन किया जा रहा है उसके बदले हुए रुख को समझा जा सकता है. भारत इस बात को शुरू से ही कहता रहा है कि पाक अपने हिस्से वाले कश्मीर में जानकार ही विकास नहीं कर रहा है, आज भी वहां पर आने जाने के सामान्य रास्ते भी नहीं है जिनके माध्यम से आतंकियों के ट्रैनिंग कैम्पों…

Read More

यूपी फिर अस्सी के दशक में

                                                                     सहारनपुर की घटना के बाद यूपी में एक बार फिर से वही सब होता दिख रहा है जिसके लिए कभी वह जाना जाता था और आज हर शहर और गाँव में किस तरह से लगातार तनाव बढ़ता ही जा रहा है इस पर भी खुद समाज को कुछ करने की आवश्यकता है. हिंसाग्रस्त कोई भी क्षेत्र हो पर हर जगह पुलिस और प्रशासन की अक्षमता या ऊपर के अघोषित निर्देशों के चलते ही हालात बेकाबू हो जाते हैं और उसके बाद अजीब तरह से बयानबाज़ी भी शुरू कर दी…

Read More