ऑनलाइन उपस्थिति

                                                               केंद्र सरकार ने जिस तरह से झारखण्ड की ऑनलाइन उपस्थिति दर्ज़ करने वाली वेबसाइट की तरह केंद्रीय स्तर पर एक कोशिश शुरू की है वह अपने आप में आने वाले समय में सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों की वास्तविक उपस्थिति के बारे में सही जानकारी देने के बारे में सक्षम हो सकती है. झारखण्ड सरकार इस तरह के प्रयास को पहले ही आज़मा चुकी है और उसके सकारात्मक परिणाम भी सामने आये हैं जिससे प्रभावित होकर ही संभवतः केंद्रीय स्तर पर यह व्यवस्था आज़माने की बात शुरू की जा चुकी…

Read More

परमाणु ऊर्जा और विश्व

                                               १९४५ में अमेरिका द्वारा नागासाकी और हिरोशिमा पर किये गए परमाणु हमले के बाद जिस तरह से पूरी दुनिया के सामने परमाणु विज्ञान का सबसे खतरनाक स्वरुप सामने आया था उसे देखते हुए तत्कालीन सोवियत संघ ने १९५० में इसके शांतिपूर्ण उपयोग पर काम करने के बारे में सोचना शुरू किया और २६ जून १९५४ को उसने अपने पहले परमाणु ऊर्जा संयंत्र को शुरू कर पूरी दुनिया को दिखा दिया कि हर ऊर्जा के दो पहलू होते हैं और यह उसे उपयोग करने करने वाले पर है कि वह…

Read More

मानसून और भारतीय कृषि

                                             अभी तक अल नीनो प्रभाव के कारण मानसून के कमज़ोर या अलग तरीके से व्यवहार करने के अनुमानों को गलत साबित करते हुए जिस तरह से बंगाल की खाड़ी से मानसून ने अपनी सामान्य गतिविधियाँ शुरू कर दी हैं और मौसम वैज्ञानिक उसकी प्रगति पूरी तरह सही बता रहे हैं वह देश के कृषि क्षेत्र के लिए एक बड़ी उत्साहजनक खबर है. आज भी भारतीय कृषि का अधिकतर हिस्सा मानसून पर ही आधारित है तथा उसके किसी भी तरह से कमज़ोर या अलग व्यवहार करने भारतीय अर्थ व्यवस्था पर…

Read More